बॉलीवुड संगीत

भारतपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

बॉलीवुड संगीत या हिन्दी फ़िल्म संगीत[१] प्रमुखतः भारत में हिन्दी सिनेमा की फिल्मों में प्रयुक्त संगीत को कहा जाता है।[२] बॉलीवुड संगीत इंडियन पॉप शैली में बनाया जाता है, हालांकि इसमें क्लासिकल तथा मॉडर्न, दोनों संगीत शैलियों से मिली प्रेरणा शामिल होती है।[२] बॉलीवुड गीत अब उत्तर भारत की संस्कृति का ही भाग बन चुके हैं, और उत्तर भारत के प्रमुख बाजारों, बसों या ट्रेनों में बजते सुनाई दे सकते हैं।[३] यद्यपि बॉलीवुड फिल्मों के संगीत को पाश्चात्य सिनेमा की म्यूजिकल शैली के समानांतर रखा जा सकता है; परंतु इन दोनों में कई भिन्नताएं हैं। कहानी तथा डायलागों की ही तरह हिंदी फिल्मों में संगीत का अपना अलग महत्त्व है।[२]साँचा:Rp

बॉलीवुड गीतों में हिन्दी तथा उर्दू की मिश्रित भाषा 'हिन्दुस्तानी' का प्रयोग होता है, जिससे ये हिन्दी तथा उर्दू, दोनों भाषा बोलने वालों को समान रूप से समझ आ जाते हैं। हाल के समय में इन दोनों के अतिरिक्त अंग्रेजी शब्दों के प्रयोग का भी चलन देखा गया है।[४] उर्दू शायरी और गजलों का शुरू से ही बॉलीवुड संगीत पर अत्यधिक प्रभाव रहा है।[५]

सांस्कृतिक प्रभाव[सम्पादन]

हिन्दी फ़िल्म संगीत केवल भारत भर में ही नहीं वरन दुनिया भर में भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग माना जाने लगा है।[२]साँचा:Rp ब्रिटेन में बॉलीवुड गीत भोजनालयों में, तथा एशियाई रेडियो चैनलों में बजाए जाते हैं। ब्रितानी नाटककार सुधा भूचर ने हम आपके हैं कौन पर आधारित एक संगीत नाटक, फोर्टीन सांग्स बनाया, जिसे ब्रिटेन में खूब पसंद किया गया। फिल्मकार बुज़ लाहरमान ने अपनी फिल्म मौलिन रोगे में भारतीय गीतों के प्रभाव का स्पष्ट वर्णन किया। उनकी इस फ़िल्म का गीत "हिन्दी सैड डायमंड्स" अनु मलिक के गीत "छम्मा छम्मा" पर आधारित था।[६] ग्रीस में जहां भारतीय गीतों पर आधारित इंडोप्रेपी शैली बनी, तो वहीं इंडोनेशिया के विभिन्न गायक, जैसे एलाय खड़ाम, रहोम इरना तथा मन्स्युर एस हिन्दी गीतों को इंडोनेशियाई संगीत के साथ पुनः गाते हैं।[७] फ्रांस के एक बैंड लेस रीता मित्सुकों ने अपनी संगीत वीडियो ले पेटिट ट्रैन के लिए बॉलीवुड संगीत से प्रेरणा ली। और गायक पास्कल बॉलीवुड ने "ज़िन्दगी एक सफर है सुहाना" गीत का फ्रेंच कवर गाकर इस गीत को फ्रांस में लोकप्रियता प्रदान की।[८] नाइजीरिया के होउसा युवकों के मध्य आजकल बंदिरी संगीत काफी लोकप्रिय है, जो सूफी तथा बॉलीवुड संगीत का एक मिश्रण है।[९] कैरिबियाई क्षेत्र का चटनी संगीत भी बॉलीवुड संगीत का ही एक स्थानीय प्रारूप है।[१०]

सर्वाधिक बिकने वाली बॉलीवुड संगीत एल्बमें[सम्पादन]

शीर्ष १०[सम्पादन]

संख्या वर्ष एल्बम संगीतकार बिक्री स्त्रोत
१९९० आशिकी नदीम श्रवण २,००,००,००० [११]
१९९५ बॉम्बे ए आर रहमान १,५०,००,००० [१२]
१९९७ दिल तो पागल है उत्तम सिंह १,२५,००,००० [१३]
१९९४ हम आपके हैं कौन रामलक्ष्मण १,२०,००,००० [१४]
१९९६ राजा हिन्दुस्तानी नदीम श्रवण १,१०,००,००० [१३]
१९८८ मैंने प्यार किया रामलक्ष्मण १,००,००,००० [१५]
१९९१ साजन नदीम श्रवण १०,००,००० [१६]
१९९५ बेवफा सनम निखिल विनय १,००,००,००० [१७]
दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे जतिन ललित १,००,००,००० [१८][१९]
रंगीला ए आर रहमान १,००,००,००० [१७]
२००० कहो ना प्यार है राजेश रोशन १,००,००,००० [२०]

दशकवार सूची[सम्पादन]

दशक एल्बम बिक्री स्त्रोत
१९५० आवारा (१९५१) साँचा:N/A [२१]
१९६० संगम (१९६४) साँचा:N/A [२२]
१९७० बॉबी (१९७३) साँचा:N/A [२३]
१९८० मैंने प्यार किया (१९८९) १,००,००,००० [१५][२४]
१९९० आशिकी (१९९०) २,००,००,००० [११][१३]
२००० मोहब्बतें (२०००) ५०,००,००० [२५]

सन्दर्भ[सम्पादन]

साँचा:टिप्पणीसूची