मौरिस हिलमैन

भारतपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

साँचा:ज्ञानसन्दूक व्यक्ति मौरिस हिलमैन (३० अगस्त १९१९ - ११ अप्रैल २००५) एक अमेरिकी माइक्रोबायोलॉजिस्ट थे जो टीका (वैक्सीन) विज्ञान में विशेषज्ञता रखते थे। उन्होंने ४० से अधिक टीकों का विकास किया और इस कारण उन्हें २०वीं सदी में किसी भी अन्य चिकित्सा वैज्ञानिक की तुलना में अधिक जीवन बचाने का श्रेय दिया जाता है।

उन्होंने खसरा, गलसुआ (मम्प्स), हेपेटाइटिस ए, हेपेटाइटिस बी, छोटी माता (चिकन पॉक्स), तानिकाशोथ (मेनिन्जाइटिस), न्यूमोनिया और हीमोफिलस इन्फ्लुएंजा बैक्टीरिया पर टीके विकसित किए।

सन्दर्भ[सम्पादन]

साँचा:टिप्पणीसूची